Tuesday, February 27, 2024
Vilom Shabd (विलोम शब्द)

20 Vilom Shabd – 20 विलोम शब्द

20 Vilom Shabd

Vilom Shabd (Antonyms) भाषा के ऐसे शब्द होते हैं जो अपने अर्थ के विपरीत अर्थ रखते हैं। इन शब्दों का प्रयोग वाक्यों या पदों को विस्तारपूर्वक, विविधतापूर्वक और प्रभावशाली बनाने के लिए किया जाता है। विलोम शब्दों का उपयोग करके हम भाषा को सुंदर और रंगीन बना सकते हैं। यहां हिंदी भाषा में 20 Vilom Shabd की सूची है:

1. सत्य – असत्य

  • सत्य का मतलब होता है कि वह चीज़ या बात जो वास्तविक और सच होती है। इसके विपरीत, असत्य वह होता है जिसका मतलब गलत होता है, जो वास्तविकता से अलग होता है। यदि कोई बात सत्य होती है, तो उसे यथार्थ माना जा सकता है और उस पर विश्वास किया जा सकता है। असत्य को अपरोक्षतः नकारा जा सकता है और इस पर विश्वास रखने का लाभ नहीं होता है। सत्य और असत्य की पहचान अक्सर विचारशक्ति, विवेक और अनुभव से होती है।

2.सुन्दर – बदसूरत

  • सुन्दर का अर्थ होता है खूबसूरत, आकर्षक या रमणीय। इस शब्द का उपयोग एक व्यक्ति, वस्त्र, चीज़, स्थान या कोई भी वस्तु को सुंदर, आकर्षक और प्रशंसनीय बताने के लिए किया जाता है।
  • वहीं, बदसूरत शब्द का अर्थ होता है असुंदर, अच्छी तरह से बना नहीं हुआ या बदी तरह से दिखने वाला। इसे किसी व्यक्ति, चीज़ या स्थान को वर्णन करने के लिए प्रयोग किया जाता है जो देखने में प्रत्याशा से कम आकर्षक होता है।

3.ज्ञान – अज्ञान

  • ज्ञान का अर्थ होता है जानकारी, ज्ञान या ज्ञानता। इस शब्द का उपयोग विद्या, अनुभव, संग्रहित जानकारी और बुद्धि को संकलित करने के लिए किया जाता है। यह एक अवस्था है जो हमें बातों को समझने, अनुभव करने और विचार करने की क्षमता प्रदान करती है।
  • वहीं, अज्ञान शब्द का अर्थ होता है अनजानी, अज्ञान या अनजानता। इसे उन स्थितियों या स्थानों का वर्णन करने के लिए प्रयोग किया जाता है जहां ज्ञान की कमी होती है और जहां व्यक्ति या समुदाय किसी विषय या मुद्दे के बारे में अपूर्ण या असही जानकारी रखते हैं। अज्ञान से अधिकारी होने का अर्थ है ज्ञान की प्राप्ति या बुद्धि के विकास के लिए जागरूकता या शिक्षा की आवश्यकता।

4.जीवन – मृत्यु

  • जीवन का अर्थ होता है जीना, जीवित रहना या जीवन की स्थिति। इस शब्द का उपयोग हमारे अस्तित्व, जीवन धारण करने के लिए और जीवन के संबंधित सभी गतिविधियों को वर्णन करने के लिए किया जाता है। यह एक मानवीय अनुभव है जिसमें हम जीवित रहते हैं, अनुभवों को प्राप्त करते हैं और अपनी आत्मा को विकसित करते हैं।
  • वहीं, मृत्यु शब्द का अर्थ होता है मरना या मौत की स्थिति। यह शब्द उस समय का वर्णन करने के लिए प्रयोग किया जाता है जब एक जीव अपनी जीवनी शक्ति खो देता है और शरीर का आत्मनिर्मित कार्य समाप्त हो जाता है। मृत्यु एक प्राकृतिक प्रक्रिया है जो हम सभी को प्रभावित करती है और जीवन के साथ संबंधित है।

5.सुख- दुःख

  • सुख का अर्थ होता है सुख, आनंद या प्रसन्नता। इस शब्द का उपयोग खुशी, संतोष या अनुभवों को व्यक्त करने के लिए किया जाता है। सुख का उपयोग एक प्रकार के सुख को व्यक्त करने, धन्यता को व्यक्त करने और धन्य होने के लिए किया जाता है।
  • वहीं, दुःख शब्द का अर्थ होता है दुःख, पीड़ा या दुखी होने की स्थिति। यह शब्द उस समय का वर्णन करने के लिए प्रयोग किया जाता है जब किसी को मानसिक या शारीरिक रूप से कष्ट, पीड़ा या आंसूओं का अनुभव होता है। दुःख भावनात्मक और भौतिक पीड़ा की एक प्रतीति होती है और जीवन की परिस्थितियों या अनुभवों के आधार पर व्यक्त होता है।

6.प्रकाश – अंधकार

  • प्रकाश का अर्थ होता है ज्योति, उजाला या प्रकाशमय दृश्य। इस शब्द का उपयोग प्रकाशमान स्थिति, रोशनी या ज्योतिर्मय वस्तु को वर्णन करने के लिए किया जाता है। प्रकाश जीवन, ज्ञान, प्रकृति और जगत के आधारभूत तत्व को दर्शाता है। यह उम्मीद, प्रकाशित ज्ञान और प्रगति की प्रतीक हो सकता है।
  • वहीं, अंधकार शब्द का अर्थ होता है अंधेरा, अंधा या अंधकारमय दृश्य। यह शब्द एक स्थिति का वर्णन करने के लिए प्रयोग किया जाता है जब अप्रकाशित, अंधेरा या अज्ञानमय स्थिति होती है। यह अनजाने, अविज्ञान और अज्ञान की स्थिति को दर्शाता है जिसमें दिखाई नहीं देता, गहरा अंधकार छाया होता है और प्रकाश की कमी होती है।

7.स्वास्थ्य – अस्वास्थ्य

  • स्वास्थ्य का अर्थ होता है शरीरिक और मानसिक स्वस्थता या सुदृढ़ता। यह शब्द एक अच्छे स्वास्थ्य, सम्पूर्णता और सकारात्मक शारीरिक-मानसिक स्थिति को व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है। स्वास्थ्य मानव जीवन में महत्वपूर्ण होता है और एक व्यक्ति के सामरिक और मानसिक क्षमताओं को प्रभावित करता है। यह अच्छी शारीरिक कंधों को दर्शाने, ऊर्जा को प्रदान करने, बीमारियों से लड़ने और उच्चतम स्तर की जीवन गुणवत्ता को प्राप्त करने में मदद करता है।
  • वहीं, अस्वास्थ्य शब्द का अर्थ होता है अच्छी स्वास्थ्य की कमी या अप्रसन्नता की स्थिति। इसे उन समयों का वर्णन करने के लिए प्रयोग किया जाता है जब व्यक्ति की स्वास्थ्य सुस्त या बिगड़ी हुई होती है। अस्वास्थ्य शारीरिक और मानसिक संतुलन को प्रभावित करता है और बीमारियों, दुर्बलता या दुखभरी स्थितियों के लक्षण हो सकते हैं।

8.बहुमुखी – एकमुखी

  • बहुमुखी का अर्थ होता है बहुतायती, विविध या अनेकावधी। यह शब्द वह स्थिति या गुण को व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है जिसमें कुछ अधिक से अधिक मायने और पहलू होते हैं। यह व्यक्ति, स्थिति, चीज़ या वस्तु को विशेष और विविधता से समझा जाता है जो अनेक पक्षों, पहलुओं और दृष्टियों से देखा जा सकता है।
  • वहीं, एकमुखी शब्द का अर्थ होता है एकतरफा, एकपक्षीय या एकमार्गी। इसे वह स्थिति या गुण को व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है जिसमें समानता और एकदिशा होती है। एकमुखी व्यक्ति, स्थिति, चीज़ या वस्तु को एक पहलू, पक्ष या दृष्टिकोण से ही समझता है और उसे वही एक खास पहलू, दिशा या पक्ष दिखता है।

9.आनंद – दुःख

  • आनंद का अर्थ होता है सुख, खुशी या आनंदमय अनुभव। यह शब्द उस अवस्था को व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है जब कोई व्यक्ति या स्थिति से आनंद और सुख की भावना प्राप्त करता है। आनंद विभिन्न प्रकार के उत्साह, आनंद, खुशी, आत्मसंतुष्टि और प्रसन्नता को व्यक्त कर सकता है। यह भावनात्मक और आनंदमय स्थिति का वर्णन करता है जिसे हम अपने अंतर्निहित सुख और आनंद के रूप में महसूस करते हैं।
  • वहीं, दुःख शब्द का अर्थ होता है दुख, पीड़ा या दुःखी होने की स्थिति। यह शब्द उस समय का वर्णन करने के लिए प्रयोग किया जाता है जब कोई व्यक्ति या स्थिति से दुख, असंतोष या कष्ट का अनुभव करता है। दुःख भावनात्मक और शारीरिक पीड़ा की एक प्रतीति होती है जो हमारी मनोदशा को प्रभावित करती है और हमें अस्वस्थ या आत्मसंतुष्टि से दूर रखती है।

10.अप्रिय – प्रिय

  • अप्रिय का अर्थ होता है अच्छा नहीं, अप्रिय या अप्रियता। यह शब्द उस वस्तु, व्यक्ति या स्थिति को वर्णन करने के लिए प्रयोग किया जाता है जिसे हमें प्रिय नहीं माना जाता है या जिसका हमें आनंद नहीं होता है। यह अस्वीकार, अनुराग या नकारात्मक भावना को व्यक्त करता है।
  • वहीं, प्रिय का अर्थ होता है प्रेमित, आनंदित या प्रियतम। इसे उन व्यक्ति, वस्तु या स्थिति को वर्णन करने के लिए प्रयोग किया जाता है जिसे हमें प्रियता, स्नेह या संतोष की भावना होती है। प्रियतमता, संप्रेम, आनंद और संतोष की भावना को व्यक्त करता है।

11.समृद्धि – दरिद्रता

  • समृद्धि का अर्थ होता है सम्पन्नता, धनवानता या आर्थिक वृद्धि। यह शब्द उस स्थिति या गुण को व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है जब व्यक्ति या समुदाय आर्थिक रूप से सम्पन्न और सशक्त होता है। समृद्धि विभिन्न प्रकार के संपत्ति, संसाधनों, सफलता और आर्थिक प्रगति को दर्शाती है। यह धन, संतुलन, समृद्धि, उच्चतम जीवन गुणवत्ता और सामरिक और आर्थिक स्वतंत्रता की प्रतीक हो सकती है।
  • वहीं, दरिद्रता का अर्थ होता है गरीबी, अभाव या आर्थिक कमी। इसे उन स्थितियों का वर्णन करने के लिए प्रयोग किया जाता है जब व्यक्ति या समुदाय आर्थिक रूप से कमजोर, गरीब या आर्थिक समस्याओं का सामना करता है। दरिद्रता धन की कमी, संकट, अप्रसन्नता और सामाजिक-आर्थिक पीड़ा की एक प्रतीति हो सकती है।

12.जीना – मरना

  • जीना का अर्थ होता है जीवित रहना, जीने की स्थिति या जीवन। यह शब्द हमारे अस्तित्व और जीवन धारण करने के लिए प्रयोग किया जाता है। जीना हमें सांस लेना, अनुभवों को महसूस करना, कार्यों को पूरा करना और अपने जीवन को बिताने की क्षमता प्रदान करता है।
  • वहीं, मरना शब्द का अर्थ होता है मर जाना, मौत की स्थिति या जीवन की समाप्ति। इसे उस समय का वर्णन करने के लिए प्रयोग किया जाता है जब एक जीव अपने जीवन की आखिरी सांस लेता है और उसका शरीर संघटित कार्य समाप्त हो जाता है। मृत्यु एक प्राकृतिक प्रक्रिया है जो हर जीव को प्रभावित करती है और जीवन के साथ संबंधित है।

13.बढ़ाना – कम करना

  • बढ़ाना का अर्थ होता है वृद्धि करना, बढ़ाना या बढ़ाने की क्रिया करना। यह शब्द किसी वस्तु, संख्या, गुण, मात्रा या अन्य तत्व को बढ़ाने के लिए प्रयोग किया जाता है। इससे उत्पादन, परिणाम, संख्या या प्रभाव को वृद्धि या बढ़ावा मिलता है। बढ़ाने से कुछ अधिक हो जाता है और वृद्धि होती है।
  • वहीं, कम करना का अर्थ होता है घटाना, कमी करना या कम करने की क्रिया करना। यह शब्द किसी वस्तु, संख्या, गुण, मात्रा या अन्य तत्व को कम करने या कम होने के लिए प्रयोग किया जाता है। इससे उत्पादन, परिणाम, संख्या या प्रभाव कम होता है और कमी होती है। कम करने से कुछ कम हो जाता है और घटता है।

14.ऊँचा – नीचा

  • ऊँचा का अर्थ होता है उच्च, ऊंचा या ऊपर का। यह शब्द किसी वस्तु, स्थान, स्तर, मानक या आयाम को व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है जो दूसरों से ऊंचा, उच्चतर या उपर में स्थित होता है। यह शब्द ऊंचाई, महत्व, स्थान, पद या गरिमा को दर्शाने का भी उपयोग किया जाता है।
  • वहीं, नीचा का अर्थ होता है निम्न, नीचे का या नीचे की ओर का। इसे किसी वस्तु, स्थान, स्तर, मानक या आयाम को व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है जो दूसरों से नीचे, निम्नतर या नीचे में स्थित होता है। नीचाई, कमी, महत्वहीनता, पदावनति या गिरावट को भी व्यक्त करने के लिए नीचा शब्द का उपयोग किया जाता है।

15.बहार – अंदर

  • बहार का अर्थ होता है बाहर, निकट या दूर की ओर। यह शब्द किसी जगह, स्थान, या सीमा को व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है जो अद्यतित, बाहरी या बाहर स्थित होता है। बहार का उपयोग बाहरी आवास, परिसर, देश, नगरी, या किसी जगह के बाहरी भाग को दर्शाने के लिए किया जाता है।
  • वहीं, अंदर का अर्थ होता है अंदर, भीतर या आंतरिक भाग। इसे किसी जगह, स्थान, या सीमा को व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है जो आंतरिक, आंतरदेशी, या वातावरण के भीतर स्थित होता है। अंदर का उपयोग आंतरिक कमरे, आंतरिक भाग, गृह, या किसी जगह के आंतरिक स्थान को दर्शाने के लिए किया जाता है।

16.उज्ज्वल – अंधकारमय

  • उज्ज्वल का अर्थ होता है प्रकाशमय, चमकीला या उजाला। इस शब्द का उपयोग उस वस्तु, स्थान, या स्थिति को व्यक्त करने के लिए किया जाता है जो प्रकाश से रोशन या चमकदार होता है। उज्ज्वलता उसमे ज्ञान, सुख, शांति, स्पष्टता और आनंद की भावना को व्यक्त कर सकती है। इस शब्द का उपयोग प्रकाशमान स्थिति, प्रगति, सफलता और सकारात्मक दृष्टिकोण को व्यक्त करने में किया जाता है।
  • वहीं, अंधकारमय का अर्थ होता है अंधेरा, अंधा या अंधकारयुक्त। यह शब्द उस वस्तु, स्थान, या स्थिति को व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है जो प्रकाशहीन, अनजान, अज्ञानी या अस्पष्ट होता है। अंधकारमय स्थिति में उजाला की कमी होती है और दिखाई नहीं देता, अनिर्णय, असंख्यात या अस्पष्टता हो सकती है।

17.बढ़त – कमी

  • बढ़त का अर्थ होता है वृद्धि, बढ़ावा या अधिकता। यह शब्द किसी वस्तु, संख्या, गुण, मात्रा या अन्य तत्व के वृद्धि या बढ़ावे को व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है। बढ़त से कुछ अधिक होता है और वृद्धि होती है। इस शब्द का उपयोग उत्पादन, प्रगति, आर्थिक समृद्धि और विकास को दर्शाने में किया जाता है।
  • वहीं, कमी का अर्थ होता है कमी, क्षीणता या अभाव। यह शब्द किसी वस्तु, संख्या, गुण, मात्रा या अन्य तत्व के कम होने या कम होने को व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है। कमी से कुछ कम होता है और क्षय होता है। इस शब्द का उपयोग कमी, क्षीणता, घटना, असंतुलन और अपूर्णता को व्यक्त करने में किया जाता है।

18.उचित – अनुचित

  • उचित का अर्थ होता है सही, योग्य या उच्चतम योग्यता का होना। यह शब्द किसी कार्य, निर्णय, व्यवहार, योजना या वस्तु को व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है जो न्यायसंगत, संगत या उपयुक्त होता है। उचितता का अभ्यास करना मान्यता, न्याय, नियमितता और व्यवस्था को दर्शाने में मदद करता है।
  • वहीं, अनुचित का अर्थ होता है अयोग्य, गलत या असंगत होना। यह शब्द किसी कार्य, निर्णय, व्यवहार, योजना या वस्तु को व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है जो न्यायसंगत, अनुचित या अप्रचलित होता है। अनुचितता अयोग्यता, अनुकरणीयता, अनियमितता या अव्यवस्था को दर्शाने में मदद करती है।

19.पूर्व – पश्चिम

  • पूर्व का अर्थ होता है पूर्व, ईशान या उपयुक्ततर दिशा। यह शब्द किसी स्थान, संरचना, दिशा, समय या कार्य को व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है जो पूर्वी दिशा में स्थित होता है। पूर्व की दिशा आकाश के सूर्योदय की ओर होती है और संबंधित स्थान, समय, दिशा या कार्य को दर्शाने में मदद करता है।
  • वहीं, पश्चिम का अर्थ होता है पश्चिम, अपरध या उपयुक्ततर दिशा। इसे किसी स्थान, संरचना, दिशा, समय या कार्य को व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है जो पश्चिमी दिशा में स्थित होता है। पश्चिम की दिशा आकाश के सूर्यास्त की ओर होती है और संबंधित स्थान, समय, दिशा या कार्य को दर्शाने में मदद करता है।

20.गर्म – ठंडा

  • गर्म का अर्थ होता है उष्ण, तापमान या गर्मी। यह शब्द किसी वस्तु, स्थान या तत्व को व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है जो ऊष्मा या तापमान में ऊँचाई होता है। गर्मी तापमान, ताप, तप्तता और ऊष्मा की भावना को दर्शाती है। यह शब्द भोजन, मौसम, तापमान और अनुभवों के संबंध में उपयोग होता है।
  • वहीं, ठंडा का अर्थ होता है शीतल, ठंड, या संघनित। इसे किसी वस्तु, स्थान या तत्व को व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है जो ऊष्मा या तापमान में कमी या शीतलता होता है। ठंडाई तापमान, ठंड, शीतलता और संघनितता की भावना को दर्शाती है। यह शब्द मौसम, तापमान, तत्व और अनुभवों के संबंध में उपयोग होता है।20 Vilom Shabd

यहां ऊपर दिए गए 20 Vilom Shabd की सूची आपको एक अच्छी आरंभिक समझ प्रदान कर सकती है। आप इन शब्दों का उपयोग वाक्यों या पदों में करके अपनी रचनात्मकता को प्रकट कर सकते हैं। 20 Vilom Shabd का सभी प्राकृतिक भाषाओं में महत्वपूर्ण स्थान होता है, इसलिए इनका उपयोग सीखना और उन्हें सही ढंग से प्रयोग करना महत्वपूर्ण होता है।

2 thoughts on “20 Vilom Shabd – 20 विलोम शब्द

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *